दिसंबर 02, 2018

प्रश्न आज के, उत्तर पुराने

#प्रश्न ➡️
प्यारे ओशो, भारतवासियों के लिए आपका कोई सन्देश है, जिसे आप उन तक पहुँचाना चाहेंगे?

#ओशो ➡️

इतना ही कहना चाहता हूँ #भारत से
कि तुम अपने असली चेहरे को पहचानो।  तुम गौतम #बुद्ध के देश हो, तुम #कृष्ण के देश हो, तुम #पतँजलि के देश हो। तुमने उन सितारों को जन्म दिया है, जिनका कोई मुकाबला दुनिया में नहीं है। सारे #आकाश के तारे तुम्हारे तारों के सामने फीके हैं।  तुम जागो ताकि दो कौड़ी के #राजनीतिज्ञ तुम्हारा और तुम्हारी आने वाली पीढ़ियों का शोषण न कर सकें, ताकि अन्धे लोग आँखवालों के देश का मार्गदर्शन न कर सकें। तुम जरा याद्दाश्तों से भरो।  तुम जरा उन सारी सुगंधों को फिर से याद करो-- #उपनिषदों की गूँज, कबीर के गीत, #मीरा के नृत्य: तुम #अद्वितीय हो! छोटे-मोटे लोग तुम्हारे ऊपर अधिकार किए बैठे हैं।  इन्हें उतार फेंको।  तुम्हारा देश  अभी भी बुद्धिमानों से खाली नहीं है। लेकिन #बुद्धिमान व्यक्ति चुनाव में भीखमंगों की तरह तुम्हारे पास वोट माँगने नहीं आएँगे। जो तुम्हारे पास वोट माँगने आए, उसे वोट मत देना।  जिसे वोट देने योग्य समझो, उसके पैर पड़ना, उसे समझाना-बुझाना कि तुम खड़े हो जाओ, हम तुम्हें #वोट देना चाहते हैं। जो तुम्हारे पास वोट भीख माँगने आता है, वह दो कौड़ी का है। जिसकी कोई कीमत है  और जिसकी कोई आत्मा है और जिसका कोई #स्वाभिमान है,वह तुमसे भीख माँगने नहीं आएगा। तुम्हें उससे जाकर प्रार्थना करनी होगी। भारत को एक नए ढंग का लोकतंत्र #दुनिया को देना होगा,  जहाँ नेता भीख नहीं माँगता, जहाँ जनता बुद्धिमानों को, विचारशीलो को प्रार्थना करती है कि थोड़ा-सा समय, थोड़ी-सी बुद्धिमत्ता इस #गरीब देश के लिए भी दे दो।



Call 2 us- 8448447719