जनवरी 02, 2019

अशोक लगातार दूसरी बार बने

बनमनखी के किसान परिवार का बेटा अशोक कुमार रजक लगातार दूसरी बार प्रदेश कार्यकारिणी परिषद सदस्य -सह- प्रदेश कल्याण छात्रावास कार्य प्रमुख बनाये गये हैं।
पूर्णियाँ जिले के बनमनखी प्रखंड के बेलाबदन गाँव के एक किसान व अनुसूचित जाति परिवार के बेटे अशोक कुमार रजक  को विश्व के सबसे बड़े राष्ट्रवादी छात्र संगठन "अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, बनमनखी इकाई से लगातार दूसरी बार प्रदेश कार्यकारिणी परिषद सदस्य -सह- प्रदेश सह कल्याण छात्रावास कार्यप्रमुख मनोनीत किया गया है। आभाविप के 64वें राष्ट्रीय अधिवेशन गुजरात के कर्णावति में आभाविप के प्रदेश पदाधिकारी का मनोनयन किया गया है।

     अशोक कुमार रजक ने बताया कि राष्ट्रीय अधिवेशन में मुझे प्रदेश पदाधिकारी द्वारा जो उत्तरदायित्व पुनः दिया गया है, उसे मैं हर हाल में बेहतर रूप से निर्वहन करने का प्रयास करूंगा। उन्होंने कहा कि संगठन को सशक्त बनाकर संगठन की नीति और सिद्धांतों से सभी छात्र- छात्राओं को अवगत कराया जायेगा।महाविद्यालय परिसर में शिविर लगाकर प्राथमिकता के आधार पर सभी छात्र - छात्राओं तथा कल्याण छात्रावासों की समस्याओं का त्वरित समाधान कराने का प्रयास किया जायेगा। श्री रजक के मनोनयन पर अभाविप बनमनखी इकाई से नगर अध्यक्ष डाॅ.तरूण सिंह, प्रदेश सह मंत्री शशि शेखर कुमार, जिला संयोजक अभिषेक आनंद, विश्वविद्यालय संयोजक रवि गुप्ता, जिला प्रमुख सह प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य डाॅ० अनंत प्रसाद गुप्ता, प्रो०(डाॅ०) उदय नारायण सिंह, प्रो० सी०के० मिश्रा, प्रदेश कार्यकारिणी परिषद सदस्य संतोष अजनबी, नगर मंत्री मंगल कुमार, सहमंत्री सिकेन्दर चौधरी, जितेन्द्र कुमार पासवान, खेलकुद प्रमुख गणपत सिंह, गोरेलाल मेहता महाविद्यालय, बनमनखी के अध्यक्ष अभिषेक सिंह आदि ने हर्ष व्यक्त किया है।

श्री रजक को भारत स्वाभिमान परिवार की तरफ से सदस्यों ने शुभकामना दी है। श्री रजक भारत स्वाभिमान के न केवल समर्थक हैं, बल्कि कई मामले में उन्होनें अपनी सीमा से बाहर जाकर भी संगठन का सहयोग किया है। पिछले वर्ष ही कम्प्यूटर शिक्षा के नाम पर बनमनखी में करोड़ों रूपये के लूट को उनके सक्रियता से रोका जा सका। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर भी वे पहली बार से ही हर वर्ष बढ़-चढ़कर भाग लेते आये हैं। उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामना।


Call 2 us- 8448447719